गुजरात के समुद्र तट पर 100 किलोग्राम हेरोइन के साथ 9 ईरानी पकडे गये 

भारतीय तट रक्षक (आईसीजी) और गुजरात के आतंकवादी रोधी दस्‍ते के समु्द्री कार्य बल (एमटीएफ) ने की  संयुक्‍त कार्यवाई

    गुजरात।  भारतीय तट रक्षक (आईसीजी) और गुजरात के आतंकवादी रोधी दस्‍ते के समु्द्री कार्य बल (एमटीएफ) ने एक संयुक्‍त कार्यवाई में 26 मार्च, 2019 को गुजरात के समुद्र तट से 100 किलोग्राम नशीले पदार्थों के साथ 9 ईरानी नागरिकों को पकड़ लिया गया।

आतंकवादी रोधी दस्‍ते को 24 मार्च, 2019 को जानकारी मिली थी कि तस्‍करी के जरिए ईरान से एक नौका में गैर-कानूनी तरीके से एक नशीला पदार्थ, हेरोइन गुजरात लाया जा रहा है। यह भी जानकारी मिली थी कि इस खेप को पाकिस्‍तान में लादा गया और गुजरात के लिए रवाना किया गया। आतंकवादी रोधी दस्‍ते का एक दल भारतीय तटरक्षक जहाज पर चढ़कर मिशन पर निकल पड़ा जबकि एटीएस कर्मी लगातार संचार फ्रीक्‍वेंसी की निगरानी कर रहे थे।

24 घंटे से अधिक समय की विस्‍तृत तलाशी के बाद, आईसीजी जहाज ने संदेहास्‍पद नौका को गुजरात तट पर 26 मार्च, 2019 को रोक लिया। चुनौती मिलने पर संदेहास्‍पद नौका ने बचने की कोशिश की। यह एहसास होने पर कि आईसीजी द्वारा उन्‍हें हर हालत में पकड़ लिया जाएगा, नौका के चालक दल ने सबूतों को मिटाने के लिए उसमें आग लगा दी। आईसीजी और एटीएस दल के निर्भीक सदस्‍य नौका पर चढ़ गये और 100 किलोग्राम हेरोइन के साथ ईरानी चालक दल के 9 सदस्‍यों को पकड़ लिया।

भारतीय तट रक्षक जहाज ने इसके बाद नौका में लगी आग को बुझाने का प्रयास किया,नौका पर बड़ी मात्रा में ईंधन और कुछ गैस सिलेंडर होने के कारण आग अनियंत्रित हो गई और डूब गई। नौका के पकडे गये चालक दल के सदस्‍यों को नशीले पदार्थों की खेप के साथ भातीय तटरक्षक जहाज द्वारा पोरबंदर लाया गया और आगे कार्रवाई के लिए 27 मार्च, 2019 को समुद्री कार्यबल को सौंप दिया गया।

http://164.100.117.97/WriteReadData/userfiles/image/image002FXJ1.jpghttp://164.100.117.97/WriteReadData/userfiles/image/image001T10A.jpg