कलाकार शिविर का आयोजन करना देश के लिए गर्व का बात – शिवप्रताप

राष्ट्रीय विज्ञान तथा कला प्रदर्शनी 2021 का समापन समारोह

चित्रकार शिविर का आयोजन लाल बारादरी उत्तर प्रदेश राज्य ललित कला केंद्र में किया गया,जिसका उद्घाटन उत्तर प्रदेश के कानून मंत्री बृजेश पाठक द्वारा किया गया था 

लखनऊ l राष्ट्रीय विज्ञान तथा कला प्रदर्शनी 2021 का समापन समारोह राज्य ललित कला अकादमी (सांस्कृतिक विभाग उत्तर प्रदेश) ,अखिल भारतीय विज्ञान दल एवं दुर्गा कला केंद्र के संयुक्त तत्वावधान में शुरू हुआ। कलाकार शिविर का समापन समारोह मुख्य अतिथि  शिवप्रताप शुक्ला, पूर्व केंद्रीय राज्यमंत्री व राज्य सभा सदस्य द्वारा किया गया। विशिष्ट अतिथि के रूप में ललित कला अकादमी उत्तर प्रदेश शासन अध्यक्ष सीता राम कश्यप  , गिरीश चंद मिश्रा ,डॉ यशवंत सिंह राठौर ,डॉ मृदुल शुक्ल राष्ट्रीय बनस्पति अनुसन्धान संस्थान भारत सरकार लखनऊ,  श्री मति अंजनी द्विवेदी प्रबंधक दुर्गा कला केंद्र,  डॉ बिनीत गुप्ता राम स्वरुप विश्वविद्यालय बाराबंकी , डॉ रवि कांत निदेशक तथा इंटरनेशनल समिति, अखिल भारतीय विज्ञान दल, भृगुनाथ पार्षद लखनऊ नगर महापालिका उपस्थित थे ।

कार्यक्रम की शुरुआत डॉ आनन्देश्वरी अवस्थी, रेनू शुक्ल तथा श्रेयसी अवस्थी के सरस्वती बंदना द्वारा किया गया । अतिथियों का स्वागत कार्यक्रम के आयोजक डॉ मृदुल शुक्ल द्वारा साल स्मृति चिन्ह फ्लावर बूके द्वारा दे कर किया गया। कैटलॉग का विमोचन अतिथियों द्वारा किया गया ।
अखिल भारतीय विज्ञान दल तथा दुर्गा कला केंद्र द्वारा स्वर्गीय लीलावती देवी शुक्ला राष्ट्रीय कला एवं विज्ञान सम्मान 2021 देश के लब्ध प्रतिष्ठित कलाकारों तथा वैज्ञानिकों को प्रदान किया गया ।  गिरीश चंद मिश्रा उपाध्यक्ष ललित कला अकादमी उत्तर प्रदेश शासन डॉ यशवंत सिंह राठौर डॉ आनंद प्रकाश बैज्ञानिक सी एस आई आर डॉ अष्टभुजा प्रसाद मिश्रा वैज्ञानिक विज्ञान प्रोधौगिकी मंत्रालय भारत सरकार डॉ घनश्याम पांडेय वैज्ञानिक केंद्रीय उपोषणा बागवानी संस्थान भारत सरकार डॉ अंजनानन्द कृषि विज्ञान केंद्र अरुरांचल प्रदेश डॉ मृदुल शुक्ल राष्ट्रीय बनस्पति अनुसन्धान संस्थान भारत सरकार , गिरजेश शुक्ला प्लांनिंग कमिशन की पूर्व निदेशक डॉ आनंदेश्वरी अवस्थी ,  श्रेयसी अवस्थी प्रबंधन की छात्रा तथा अखिल भारतीय विज्ञान दल जी स्टूडेंट सेल कि संजोजक आशुतोष पाठक, इन्नोवेटर अवनीश पाठक, इन्नोवेटर प्रोफेसर राजेन्द्र कुमार , माननीय सीता राम कश्यप , अध्यक्ष राज्य ललित कला अकादमी, अतुल द्विवेदी, प्रबल भारत डॉ पी के तिवारी, इंजीनि निधि तिवारी, डॉ सत्यभूषण वर्मा, सहायक प्रोफेसर गोयल इंस्टिट्यूट अवनीश पाठक , मोहम्मद शकील ,कलाकार मुकेश चौरसिया, प्रो रविकांत रामस्वरूप विश्विद्यालय श्री मृत्युंजय प्रसाद मिश्रा चित्रकार प्रोफेसर सुनील सक्सेना, प्रोफेसर राजेंद्र प्रसाद आर एस शाक्या, रेनू शुक्ला, डॉ सारिका बाला मिश्रा राजीव मिश्रा, मोहम्मद शकील डॉ कुमुद सिंह भूपेंद्र अस्थाना अंगद वर्मा, , रीता मौर्य क्षमा द्विवेदी, अश्विनी प्रजापति, , अमित राजन वर्मा प्रभाकर राय, डॉ राखी सैनी,प्रतिभा अवस्थी, राजु रंजन,अशोक शर्मा, रंजना डीन, दीपा सिंह रघुवंशी, , शिखा पांडेय, पायल त्रिपाठी ज़ीनत सिद्दीकी इत्यादि को प्रदान किया गया।
राष्ट्रीय विज्ञान तथा कला प्रदर्शनी प्रोफेसनल केटेगरी गोल्ड मैडल में डॉ सारिका बाला मिश्रा प्रियंका गुप्ता सईद मुंजा,किसन एस जोगु ,आकांशा वर्मा ,शम्भू भाई परमार पुनीत ,यशवंत पराजम्पा ,पोरियंका सिंह वैशाली इंगले,सत्य नारायण बालोदिया , राकेश कुमार सोनी,जशप्रीत मोहन सिंह ,पारमिता चक्रवोर्ति सत्यम वर्मा तथा सिलवेरमदल अर्चना मिश्रा सूरज चौहान, मनिता पाशवान, प्रतिभा सरदार , प्रतिभा त्रिपाठी मालविका मनकोटिका पंवार , सुरभि सिंह, तन्मय त्यागी को प्रदान किया गया ।वीरेंदर प्रताप सिंह अध्यक्ष पीलीभीत अखिल भसरतीय विज्ञान दल , विजय पाल सिंह महामंत्री लखीमपुर खीरी को तथा राम सनेही को अखिल भारतीय विज्ञान दाल का सम्मान पत्र दिया गया ।
राष्ट्रीय विज्ञान तथा कला प्रदर्शनी विधार्थी बर्ग में गोल्ड मैडल विराज सक्सेना ,दृष्टि सिन्हा, रुशिल अग्रवाल आदित्य माहेश्वरी गायत्री सिन्हा अनिमेष सरकार तियषा मैती ओजस तिवारी तथा सिल्वर मैडल अनुराधा रॉय शमीका अग्रवाल, लक्ष्य राव, पायल बर्मन, गौरी बर्मन संचिता सहा, अनन्य केसरवानी, तुषिता शुक्ला निधि तिवारी संस्कृति गुप्ता, श्रद्धा मिश्रा को प्रदान किया गया।
देश के मशहूर पर्यावरण विद्व मुख्य अतिथि  शिव प्रताप शुक्ला, राज्य सभा सदस्य ने कहा की विलुप्त हो रही कला तथा विज्ञान के प्रति जागरूकता हेतु अखिल भारतीय विज्ञान दल तथा दुर्गा कला केंद्र लखनऊ के सौजन्य से राष्ट्रीय विज्ञान तथा कला प्रदर्शनी 2021 तथा राज्य ललित कला अकादमी (सांस्कृतिक विभाग उत्तर प्रदेश) एवं दुर्गा कला केंद्र के संयुक्त तत्वावधान में शुरू हुआ कलाकार शिविर का आयोजन करना देश के लिए गर्व का बात है। अखिल भारतीय विज्ञान दल का तारीफ करते हुए कहा कि भारतीय जीवन शैली में मौजूद वैज्ञानिकता के प्रचार प्रसार द्वारा भारत देश को विश्व गुरु का दर्जा दिलाने के लिए प्रतिबद्ध है। कार्यक्रम के आयोजक डॉ मृदुल शुक्ल की भूरी भूरी प्रशंसा करते कहा कि डॉ शुक्ला का यह  प्रयास आंदोलन का रूप ले चुका है और भारतीय अब अपने वैज्ञानिकता के संबंध में सजग हैं।विशिष्ट अतिथि  मति अंजनी द्विवेदी ने कहा की देश में विलुप्त होती जा रही कलाकृतियों को संरक्षित करने हेतु दुर्गा कला केंद्र द्वारा विगत 30 वर्षो से कार्य किया जा रहा है ।ज्ञातव्य हो की दिनांक 4 अप्रैल 2021 को लाल बारादरी भवन राज्य ललित कला अकादमी, लखनऊ) चित्रकार शिविर का आयोजन लाल बारादरी उत्तर प्रदेश राज्य ललित कला केंद्र में किया गया,जिसका उद्घाटन उत्तर प्रदेश के कानून मंत्री बृजेश पाठक द्वारा किया गया था ।