सरकार हमारी बात नही सुन रही तो अब सरकार रामलला की बात सुनेगी- नरेश टिकैत

अयोध्या l भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय अध्यक्ष नरेश टिकैत ने गुरुवार को हनुमानगढ़ी व रामलला मंदिर में दर्शन पूजन किया l इसके बाद मीडिया से मुखातिब  राष्ट्रीय अध्यक्ष नरेश टिकैत नेे कृषि बिल वापस लेने की मांग अब श्री रामलला से की। दरअसल कृषि बिल के विरोध में 92 दिनों से किसान आंदोलन चल रहा है लेकिन अभी तक किसी प्रकार का निश्चय नही हो सका है। वे अब श्री रामलला से केंद्र सरकार को बुद्धि देने की कामना लेकर अयोध्या पहुंचें थे जिससे किसानों को उनका अधिकार मिल सके।भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय अध्यक्ष नरेश टिकैत ने बताया कि भगवान श्री रामलला से हमारे पूर्वज है। आज पहली बार ही अयोध्या आने का मौका मिला है। आज मंदिर निर्माण चल रहा इसमें हम लोग भी सहयोग करेंगे। आज भगवान श्री रामलला से यही मांगने आया हूँ कि भगवान इन्हें सद्बुद्धि दें। ताकि किसानों की समस्यों को भी समझ सके। सरकार हमारी बात नही सुन रही तो अब सरकार रामलला की बात सुनेगी । वहीं कहा आज श्री राम चन्द्र जी के नाम पर इन्हें वोट मिल गई। और हम लोग भी भगवान श्री राम के है तो यह लोग इस बात को क्यों नहीं मान रहे हैं।

 

वहीं अध्यक्ष नरेश टिकैत कहा कि इस मामले को सरकार इतना लम्बा खींच रही है। इससे यूपी के पंचायत चुनाव में बहुत फर्क डालेगा। जहां पहले टिकट को लेकर मारामारी होती थी आज भाजपा के टिकट पर कोई चुनाव लड़ने को तैयार नही है। यह हालत बन गए हैं। वहीं कहा कि आज पूरे भारत इस बिल का विरोध जताया जा रहा है। किसानों को अपनी जमीन बचाने के लाले पड़ रहे हैं। हमारी जमीन चल गई फसलों के मूल्य नही मिल रहे है। लेकिन सरकार इतना जद्दी रवैया अपना रही है। सरकार को नीचा देखना पड़ेगा। इसलिए किसानों के सामने मजबूरी है धरना प्रदर्शन करने की और महापंचायत हो रही है। हम चाहते हैं कि सरकार जल्द बताए नही तो इसे सरकार लंबा खींच रही है। इसमें कोई एतराज नही जितना लंबा खींचना चाहे कर सकते हैं।