वेस्ट वारियर्स : लोक-कलाकृतियों को सहेजने और स्वच्छता की अलख जगाने को हैं  संकल्पबद्ध 

करीब दस दिनों से रा.इ.कॉ. ढिकुली की चाहरदीवारी पर उत्तराखंड की लोककलाओं और ऐपणकला को जीवंत करनें में जुटी है संस्था

रामनगर(नैनीताल) l मेरी ,आपकी और लगभग सभी की गंदगी फैलाने की आदतों को बिना कुछ कहे अपने दल- बल के साथ सफाई करने और स्कूल/कॉलेजे़ज़ की खाली व बदसूरत दीवारों को घूम- घूमकर रंगों से
प्राणवान करने में करीब छह वर्षों से सक्रिय गैर सरकारी संस्था *वेस्ट वारियर्स* अब रामनगर सहित जनपद नैनीताल में किसी परिचय की मोहताज़ नहीं| इधर के करीब दस दिनों से रा.इ.कॉ. ढिकुली की चाहरदीवारी पर उत्तराखंड की लोककलाओं और ऐपणकला को जीवंत करनें में जुटी है संस्था| सौंदर्यीकरण के इस कार्य को गति देने में विद्यालय के बच्चे, अध्यापक और एनसीसी कैडेट्स भी लग गये | स्वच्छता के प्रति जागरुकता के साथ -साथ देवभूमि की पारम्परिक कलाकृति ऐपण, लुप्त होते वाद्ययंत्र तथा पर्यावरण को बचाने के संदेश , सर्व शिक्षा अभियान, बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ और प्लास्टिक को आम ज़िन्दगी से दूर करने के संदेशों से दीवारें बोल उठीं|
अक्टूबर 2020 में ग्रामीण क्षेत्र में ठोस अपशिष्ठ प्रबन्धन न होने के कारण संस्था कॉर्बेट क्षेत्र में जागरूकता फैलाने का काम कर रही है| आज यह संस्था कॉर्बेट से लगे व यहाँ से सत्तर किमी दूर मानिला बाजार (अल्मोड़ा) तक सफाई के काम में सक्रिय है|इतना ही नहीं, हिमांचल प्रदेश के धर्मशाला, उत्तराखंड की राजधानी देहरादून, ऋषिकेश सहित जिम कॉर्बेट के बीस गाँवों में सफाई अभियान और विद्यालयों में जागरूकता कार्यक्रम करवाना,कम से कम कूड़ा जंगलों, नदियों और प्राकृतिक स्त्रोतों तक पहुँचे ,इस दिशा में प्रयास करना और कॉर्बेट स्वच्छ और जीरो वेस्ट प्लेस बना रहे, यही इसका उद्देश्य है| समय- समय पर कार्यशाला एवं प्रशिक्षण देना, साइनबोर्ड लगवाना,
प्रत्येक गाँव को कूड़ादान प्रदान करना, स्वच्छ भारत मिशन के तहत लगातार जनता और ग्रमीणों को सचेत करना संस्था के प्राथमिक कार्य योजना का हिस्सा है| 2020 में कोरोना के नियमों का पालन करते हुए 30जागरुक कार्यक्रम सम्पन्न हुए, जिसमें 1073 बच्चे तथा 1537 वयस्क नागरिकों को जागरुकता अभियान से जोड़ा गया| 5119 किलो स्वच्छता अभियान के अंतर्गत इकट्ठा किया गया|
इस टीम के प्रोजेक्ट मैनेजर पुष्पेंदु मंडल, मीनाक्षी पांडे(ग्रुप लीडर) , गीता ध्यानी,भुवन चंद्र, प्रदीप कुमार, सोनी बिष्ट, किरन देवी, जीतेंद्र प्रसाद सहित कुछ अन्य समाजसेवी- उत्साही युवा इस संस्था को फुल टाइम देकर समर्पित स हैं|
…………………………
इस लेख के लेखक *संतोषकुमार तिवारी* रा.इ.का ढिकुली में प्रवक्ता हैं| सामादिक सरोकारों से गहरे से जुड़े हैं| इनकी दो किताबें छप चुकी हैं| रामनगर में रहते हैं|
santoshtiwari913@gmail.com