विश्व मौसम विज्ञान दिवस समारोह और जलवायु डेटा पोर्टल का उद्घाटन


भारतीय मौसम विभाग – आज़ादी का अमृत महोत्सव के एसओपी और ब्रोशर का विमोचन

प्रविष्टि तिथि: 24 मार्च           by PIB Delhi

भारतीय मौसम विभाग (आईएमडी) ने  विश्‍व मौसम विज्ञान दिवस-आजादी का अमृत महोत्‍सव का समारोह आयोजित किया। पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय में सचिव डॉ.एम.राजीवन इस समारोह के मुख्‍य अतिथि थे। उन्‍होंने इस अवसर पर भारतीय मौसम विभाग के जलवायु डेटा सेवा पोर्टल का उद्घाटन किया। उन्‍होंने डॉ. एम. महापात्रा, डीजीएम की उपस्थिति में आईएमडी के मानक संचालन प्रक्रिया (एसओपी) औरब्रोशर ऑनलाइन जारी किए। जलवायु डेटा सेवा पोर्टल, एसओपी और ब्रोशरों की मुख्‍य विशेषताएं इस प्रकार हैं:-

 

 

  1. जलवायु डेटा सेवा पोर्टल :

आईएमडी, पुणे ने जलवायु डेटा प्रबंधन और उपयोगकर्ताओं को आपूर्ति के लिए उनके  अनुकूल मंचों के साथ जलवायु डेटा सेवा पोर्टल विकसित किया है। यह पोर्टल वास्‍तविक-समय डेटा अधिग्रहण से शीघ्र डेटा प्रसार तक पूरी तरह स्‍वचालित जलवायु डेटा प्रबन्‍धन का अनुपूरक है। इस पोर्टल के मुख्‍य घटक नीचे सूचीबद्ध किये गये हैं :-

आईएमडी वेधशालाओं द्वारा दर्ज किये गये मौसम अवलोकनों की वास्तविक-समय निगरानी।

•   आईएमडी मेटाडेटा पोर्टल, अन्य रिपोर्ट और डैशबोर्ड कोसमाविष्‍ट करना।

•   डेटा आपूर्ति पोर्टल के माध्यम से मौसम संबंधी डेटा तक ऑनलाइन पहुंच।

•   भारत के ग्रिडिड तापमान और वर्षा के डेटा के लिए निशुल्‍क डाउनलोड सुविधा।

•   जलवायु संबंधी टेबल्स, एक्सट्रीम्स और नॉर्मल।

•   मानसून की वर्षा और चक्रवात की आवृत्तियों के बारे में जानकारी।

•   डेटा विश्लेषण और इंफो ग्राफिक्स।

वेब पोर्टल आईएमडी की वेबसाइट (http://www.mausam.imd.gov.in/)और आईएमडीपुणे की वेबसाइट (http://www.imdpune.gov.in/)के माध्यम से उपलब्ध होगा।

2. मानक संचालन प्रक्रियाएं (एसओपी) :

विभिन्न सामाजिक आर्थिक गतिविधि मानक संचालन प्रक्रियाओं (एसओपी) पर गंभीर मौसम की घटनाओं के परिणामी उच्‍च प्रभाव को देखते हुए इन गंभीर गौसम घटनाओं की निगरानी, पूर्वानुमान और चेतावनी सेवाएं बहुत आवश्‍यक हैं।  वास्तविक समय की निगरानी, पूर्वानुमान और चेतावनी सेवाओं के लिए, आईएमडी एसओपी का अनुपालन करता है। अभी हाल में उपकरण और प्रौद्योगिकी में हुए विकास को ध्यान में रखते हुए, आईएमडी ने एसओपी को अपडेट किया है, ताकि विशेष रूप से आपातकालीन मौसम की घटनाओं के लिए मौसम की एक समान निगरानी उपलब्‍ध कराई जा सकें। इसमें निम्‍नलिखित एसओपीशामिल हैं –

•   आईएमडी का मौसम पूर्वानुमान संगठन

•   मौसम पूर्वानुमान में उपग्रह अनुप्रयोग,

•   मौसम पूर्वानुमान में रडार अनुप्रयोग,

  • संख्यात्मक मौसम भविष्यवाणी,

•   सार्वजनिक मौसम सेवाएं,

•   चक्रवात चेतावनी सेवाएं,

•   भारी वर्षा की चेतावनी सेवाएँ,

•   थंडरस्टॉर्म वॉर्निंग सेवाएं,

•   हीट एंड कोल्ड वेव वॉर्निंग सर्विसेज,

•   कोहरे की चेतावनी सेवाएं,

•   नाउ कास्टिंग सेवाएं प्रदान करना,

•   मल्टी-हैजर्ड अर्ली वार्निंग सिस्टम,

•   शहरी मौसम संबंधी सेवाएं,

•   समुद्री मौसम पूर्वानुमान सेवाएं,

•   मौसम संबंधी संचार एवं शीघ्र चेतावनी प्रसार,

•   एग्रोमैट्रियोलॉजिकल एडवाइजरी सर्विसेज।

•   विमानन मौसम संबंधी सेवाएं,

•   हाइड्रोसंबंधी मैट्रियोलॉजिकलविज्ञान सेवाएं,

•   वायु गुणवत्ता निगरानी और सेवाएँ,

•   पोस्ट इवेंट सर्वेएवं पूर्वानुमान सत्यापन,

•   संचालन मौसम विज्ञान में प्रशिक्षण

ये एसओपी संचालन पूर्वानुमानकर्ताओं के लिए बहुत मददगार साबित होंगी और शोध गतिविधियां संचालित करने के लिए एक मूल्यवान दस्तावेज के रूप में काम करेंगी।

3. ब्रोशर:

आईएमडी के पास देश के लिए विभिन्न मौसम और जलवायु सेवाएं उपलब्‍ध कराने के लिए विशेष प्रभाग और केंद्र हैं। आपदा प्रबंधन, क्षेत्रीय अनुप्रयोगों, विभिन्न सामाजिक आर्थिक गतिविधियों और प्राकृतिक संसाधनों के प्रबंधन में मौसम और जलवायु संबंधी जानकारी के प्रभावी उपयोग के लिए जनता और हितधारकों के बीच जागरूकता बढ़ाने के लिए, आईएमडी ने संक्षिप्त इतिहास, हाल की उपलब्धियों, संगठनात्मक संरचनाओं और विभिन्न प्रभागों और उप-कार्यालयों द्वारा उपलब्‍ध कराई गई मौसम की जानकारी और चेतावनी सेवाओं पर प्रकाश डालते हुए अच्छी तरह से ये ब्रोशर तैयार किए हैं।

उपरोक्त सभी एसओपी और ब्रोशर आईएमडी वेबसाइट में उपलब्ध होंगे।