उधार लेने वाले ने अपने साथ लूट का झूठा नाटक खेल डाला,लूट की झूठी रिपोर्ट लिखवाने वाला ही सलाखों के पीछे

महराजगंज थाना क्षेत्र में बताई गई इस वारदात के बाद पुलिस ने रिपोर्ट भी लिखी

जमाना कितना खराब आ गया है कि जिस आदमी ने जरूरत के मौके पर 2 लाख रुपये उधार देखकर भलमन सहत दिखाएं उसे ही 2 लाख का चूना लगाने के लिए उधार लेने वाले ने अपने साथ लूट का झूठा नाटक खेल डाला। और नाटक कामयाब भी रहा क्योंकि उधार देने वाले ने पैसे का तगादा करने के बजाय उसके साथ हुई वारदात का अफसोस जताया और उधार का तकादा भी रोक दिया लेकिन अयोध्या पुलिस ने पूरे मामले में ऐसी तेजी दिखाई कि अब लूट की रिपोर्ट लिखवाने वाले को ही जेल के सलाखों के पीछे

पहुंचा दिया है।दरसअल पूरा मामला महाराजगंज थाना क्षेत्र के सराय राशि के पास का है।जहां 2 दिन पहले लूट की वारदात की सूचना पुलिस को मिली थी। महराजगंज थाना क्षेत्र में बताई गई इस वारदात के बाद पुलिस ने रिपोर्ट भी लिखी।

इस लूट की वारदात का खुलासा करते हुए एसएसपी शैलेश पांडे के मुताबिक सरायराशी और राजेपुर के पास हुई 1 लाख 70 हजार की लूट की सूचना झूठी निकली।एक व्यक्ति से उधार लिए गए दो लाख रुपये वापस न देना पड़े इसके लिए कथित पीड़ित ने ही दो लाख लूटे जाने का नाटक रचा। पुलिस ने गहन छानबीन के बाद 24 घंटे के अंदर ही खुलासा कर झूठी सूचना देने वाले काशीराम निवासी राजेपुर को जेल भेज दिया है।उन्होंने कहा काशीराम ने पटरंगा केे हरिराम से दो लाख उधार लिए थे। वह बार बार पैसे मांग रहा था। मंगलवार को बैंक से पत्नी के खाते से 1 लाख 70 हजार निकाले और 30 हजार उसके पास पहले से थे। इसी को लेकर मंगलवार को उसने तीन बदमाशों द्वारा लूटे जाने की सूचना दे पुलिस को गुमराह किया।पुलिस ने उसके घर दबिश देकर रुपये भी बरामद कर लिए हैं। रुपये भूसे के ढेर में छिपा कर रखे गए थे।

Byte-शैलेश पांडे,एसएसपी अयोध्या